Introduction Of Computer | कम्प्यूटर सिस्टम का परिचय | What is Computer?

By | August 27, 2018

Introduction Of Computer | कम्प्यूटर सिस्टम का परिचय

  • C = Commonly
  • O= Operated
  • M = Machine
  • P = Particularly
  • U = Used for
  • T = Technical and
  • E = Educational
  • R = Research

कम्प्यूटर:-
1. डाटा को ग्रहण कर सकता है ।
2. डाटा को भण्डारण कर सकता है ।
3. डाटा को वांछित रूप से प्रोसेस कर सकता है ।
4. जरूरत पडने पर डाटा की स्टोरेज से रिसीव कर सकता है।
5. रिजल्ट को वांछित रूप से प्रिन्ट कर सकता है ।

कम्प्यूटर के मुख्य लक्षण तीव्रगति, शुद्वता, लगन,विभिन्नता एवं भण्डारण (स्टोरेज) है ।

कम्प्युटर के प्रमुख कार्यः

  • इनपुटः- कम्प्युटर सिस्टम में डाटा एवं निर्देशों को डालने का काम इनपुट करता है ।
  • डाटा स्टोरः- डाटा एवं निर्देशों को स्टोर करना ताकि जरूरत पडने पर उन्हे प्रोसेसिंग के लिए उपलब्ध कराया जा सके।
  • डाटा प्रोसेसिंगः- अर्थ मेटिक ऑपरेशन या (तुलनात्मक) जैसे बराबर,छोंटा,बडा आदि डाटा पर परर्फोम करना ताकि डाटा को अर्थ पूर्ण सूचनाओं में बदला जा सके।
  • आउटपुटः- यूजर के लिए अर्थ पूर्ण सूचना को प्रोडूस करना जैसे प्रिन्ट रिर्पोट या मॉनिटर डिस्पले।
  • कन्ट्रोलः- उपरोक्त सभी ऑपरेशन को परर्फोम करने के लिए सिस्टम को डाइरेषन देना।

कम्प्यूटर के लक्ष्ण

  • Automatic – कम्प्यूटर स्वतः ही एक जॉब पर बिना मानव के इंटरवेशन के कार्य करने में समर्थ है आपके द्वारा वीएलसी पर एक ऑडियों प्ले करने के बाद वह स्वतः ही चलता रहता है ।
  • गति ( Speed ) :- कम्प्यूटर डाटा प्रोसेसिंग जॉब पर बहुत तीव्र गति से कार्य करता है । इसे साधरणताया माइक्रोसकेकण्ड ,नेनोसेकण्ड , पिको सेकण्ड में मे मापा जाता है ।
  • शुद्वता ( Accuracy) %:- कम्प्यूटर लगातार बिना किसी ऐरर के कार्य करता है । कम्पयूटर में यदि दिया गया इनपुट सही हो तो आउटपुट सही होता है । कम्प्यूटर ऐरर जो कि गलत इनपुट डाटा या प्रोग्राम की वजह से उत्पन्न है , इस व्यवस्था को GIGO (गारबेज इन गारबेज आउट) कहा जाता है ।
  • ( Diligence ) (लगन) – कम्प्यूटर थकान, मन न करना इत्यादि से पूर्णयता फ्री है । यह घण्टों तक बिना थके बिना किसी ऋटि के कार्य कर सकता हे।
  • विभिन्नता ( Versatility) :- कम्प्यूटर किसी भी तरह का कार्य करने में सक्षम है
  • याद करने की शक्ति ( Power of Remembering )– कम्प्यूटर इसकी सेकेण्डरी स्टोरेज क्षमता की वजह से कितनी भी विशाल सूचना को स्टोर एवं रिटन ( written ) कर सकता है । यह सूचना को तभी delete करता है जब यूजर के द्वारा ऐसा करने का कमाण्ड दिया गया है ।
  • आई.क्यू का अभावः ( No I.Q)  – एक कम्प्यूटर यूजर द्वारा दिये गये दिाा निर्देशों के अनुसार ही कार्य करता है । इसमें खुद के स्तर पर निर्णय लेने की क्षमता नहीं है ।
  • भावनात्मक अभाव ( No Feelings) – कम्प्यूटर में भावनाओं का अभाव होता है । यह मानव निर्मित निर्देशों पर काम करने वाली मशीन मात्र है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.